क़ब्र की ओर मुँह कर के नमाज़ पढ़ना हराम है

क़ब्र की ओर मुँह कर के नमाज़ पढ़ना हराम हैः

23- किसी भी हालत में क़ब्र की ओर नमाज़ पढ़ना जाइज़ नहीं है, चाहे वे नबियों की क़ब्रें हों या उन के अलावा अन्य लोगों की।

Previous article Next article