सोना:

-लगभग ग्यारह बजे सोने का प्रयास कीजिए l और नींद को भी अल्लाह के लिए समझिए और इसे उसकी आज्ञाकारिता का सहायक समझें l इस से आपका सोना भी पुण्य का काम बन जाएगा और उसपर आपको अल्लाह सर्वशक्तिमान से पुरस्कार मिलेगा l