४- नर्क से मुक्ति की नियत रखना

हज़रत पैगंबर -उन पर इश्वर की कृपा और सलाम हो-ने फ़रमाया:

إن لله عند كل فطر عتقاء، وذلك في كل ليلة".

(अल्लाह सर्वशक्तिमान की ओर से(रमज़ान में) प्रत्येक इफ्तारी के समय बहुत सारे (नर्क से) मुक्त पाते हैं और यह हर रात होती रहती हैl) (इसे अलबानी ने सहीह बताया , देखिए सहीह इब्ने माजा l)